स्वास्थ्य की पूंजी – Famous Hindi Story

स्वास्थ्य की पूंजी – Famous Hindi Story – सभी व्यक्ति बस धन कमाने के पीछे भाग रहे है लेकिन जब वेह धन कमा लेता है तो अपना स्वास्थ्य खो देते है । इसलिए हमे स्वास्थ्य का ध्यान रखना चाहिए और इससे प्राथमिकता देना चाहिए ।

स्वास्थ्य की पूंजी - Famous Hindi Story

स्वास्थ्य की पूंजी – Famous Hindi Story

स्वास्थ्य की पूंजी

एक बार की बात है एक गॉव में एक धनि व्यक्ति रहता था । उसके पास पैसे की कोई कमी नहीं थी लेकिन वह बहुत ज़्यादा आलसी था । अपने सारे काम नोकरों से ही करवाता था और खुद सारे दिन सोता रहता या अययाशी करता था । वह धीरे धीरे बिलकुल निकम्मा हो गया था । उसे ऐसा लगता जैसे मैं सबका स्वामी हूँ क्युकी मेरे पास बहुत धन है । मैं तो कुछ भी खरीद सकता हूँ । यही सोचकर वह दिन रात सोता रहता था ।

लेकिन कहा जाता है की बुरी सोच का बुरा नतीज़ा होता है । बस यही उस व्यक्ति के साथ हुआ । कुछ सालों उसे ऐसा महसूस हुआ जैसे उसका शरीर पहले से शिथिल होता जा रहा है उसे हाथ पैर हिलाने में भी तकलीफ होने लगी । यह देखकर वह व्यक्ति बहुत परेशान हुआ । उसके पास बहुत पैसा था उसने शहर से बड़े बड़े डॉक्टर को बुलाया और खूब पैसा खर्च किया लेकिन उसका शरीर ठीक नहीं हो पाया । वह बहुत दुखी रहने लगा ।

एक बार उस गॉव से एक साधु गुजर रहे थे उन्होंने उस व्यक्ति की बीमारी के बारे मे सुना । सो उन्होंने सेठ के नोकर से कहा की वह उसकी बीमारी का इलाज़ कर सकते हैं| यह सुनकर नोकर सेठ के पास गया और साधु के बारे में सब कुछ बताया । अब सेठ ने तुरिंत साधु को अपने यहाँ बुलवाया लेकिन साधु ने कहा की वह सेठ के पास नहीं आयेंगे अगर सेठ को ठीक होना है तो वह स्वयंम यहा चलकर आये ।

सेठ बहुत परेशान हो गया क्युकी वो असहाय था और चल फिर नहीं पाता था । लेकिन जब साधु आने को तैयार नहीं हुए तो हिम्मत करके बड़ी मुश्किल से साधु से मिलने पहुचें । पर साधु वहाँ थे ही नहीं । सेठ दुखी मन से वापस आ गया अब तो रोज का यही नियम हो गया साधु रोज उसे बुलाते लेकिन जब सेठ आता तो कोई मिलता ही नहीं था । ऐसे करते करते 3 महीने गुजर गये । अब सेठ को लगा जैसे वह ठीक होता जा रहा है उसके हाथ पैर धीरे धीरे काम करने लगे हैं ।

अब सेठ की समझ में सारी बात आ गयी की साधु रोज उसे क्यूँ नहीं मिलते थे । लगातार 3 महीने चलने से उसका शरीर काफी ठीक हो गया था ।
तब साधु ने सेठ को बताया की बेटा जीवन में कितना भी धन कमा लो लेकिन स्वस्थ शरीर से बड़ा कोई धन नहीं होता । तो मित्रो, यही बात हमारे दैनिक जीवन पर भी लागू होती है पैसा कितना भी कमा लो लेकिन स्वस्थ शरीर से बढ़कर कोई पूंजी नहीं होती ।

अन्य कहानिया जरुर पड़े – Interesting story in Hindi and good story in hindi language.

Leave a Reply