सच्चा सुख – Short Hindi Stories With Moral

सच्चा सुख – Short Hindi Stories With Moral – साचा सुख किस में है, हर कोई पैसे के पीछे भागता है तो क्या उससे सुख प्राप्त होता है । क्या हमे साडी खुसिया उससे प्राप्त हो सकता है । आज हम आपको इस्सी संद्र्ब में एक कहानी बताएंगे ।

सच्चा सुख - Short Hindi Stories With Moral

सच्चा सुख – Short Hindi Stories With Moral

सच्चा सुख

एक गाँव के मंदिर में एक ब्रहमचारी रहता था। लोभ,मोह से परे अपने आप में मस्त रहना उसका स्वभाव था। कभी-कभी वह यह विचार भी करता था की इस दुनिया में सर्वाधिक सुखी कौन है ?

एक दिन एक रहीस उस मंदिर में दर्शन हेतु गया। उसके महंगे वस्त्र, आभूषण, नौकर – चाकर आदि देखकर ब्रह्मचारी को लगा की यह बड़ा सुखी आदमी होना चाहिए। उसने उस रहीस से पूछ ही लिया। रईस बोला – मैं कहाँ सुखी हूँ भैया ! मेरे विवाह को ग्यारह वर्ष हो गए, किन्तु आज तक मुझे संतान सुख नहीं मिला । मैं तो इसी चिंता में घुलता रहता हूँ की मेरे बाद मेरी सम्पति का वारिस कौन होगा और कौन मेरे वंश के नाम को आगे बढ़ाएगा ? पड़ोस के गाँव में एक विद्वान पंडित रहते हैं। मेरी दृहि में वे ही सच्चे सुखी हैं।

ब्रह्मचारी विद्वान पंडित से मिला, तो उसने कहा – मुझे कोई सुख नहीं है बिंधु, रात- दिन परीश्रम कर मैंने विद्यार्जन किया, परन्तु उसी विद्या के बल पर मुझे भरपेट भोजन भी नहीं मिलता। अमुक गाँव में जो नेताजी रहते हैं, वे यशस्वी होने के साथ-साथ लक्ष्मीवान भी है। वे तो सर्वाधिक सुखी होंगे।

ब्रहमचारी उस नेता के पास गया, तो नेताजी बोले-मुझे सुख कैसे मिले ? मेरे पास सब कुछ है, परन्तु लोग मेरी बड़ी निंदा करते हैं। मैं कुछ अच्छा भी करूँ तो उसमें बुराई खोज लेते हैं। यह मुझे सेहन नहीं होता। यहा से चार गाव छोड़कर एक गाव के मंदिर में एक मस्तमौला ब्रहमचारी रहता है। इस दुनिया में उससे सुखी और कोई नहीं हो सकता।

ब्रहमचारी अपनी ही वर्णन सुनकर लज्जित हुआ और वापस मंदिर में लौटकर पहले की तरह सुख से रहने लगा। उसे समझ में आ गया की सच्चा सुख लोकिक सुखों में नहीं है बल्कि वह तो लोकिक चिन्ताओ से मुक्त अलौकिक की नि: स्वार्थ उपासना में बसता है। समस्त भोतिकता से परे आत्मिकता को पा लेना ही सच्चे सुख व आनंद की अनिभूति कराता है।

ऐसी ही अनेक कहानी है जो हमको एक सीख प्रदान करती है जैसे की सही दिशा चुने – Inspirational Story In Hindi और Motivational Stories In Hindi For Students

Leave a Reply