दोस्ती की आज़माइश – Truth Story In Hindi

दोस्ती की आज़माइश – Truth Story In Hindi – दोस्ती एक ऐसा खास एहसास है जो नसीब वालो को मिलता है । सची दोस्ती से बढकर कुछ नहीं ।
ऐसी ही एक कहानी जो की इस दोस्ती की अजमाइश भी कही जा सकती है आज हम आपके लिए लाये है ।

दोस्ती की आज़माइश - Truth Story In Hindi

दोस्ती की आज़माइश – Truth Story In Hindi

दोस्ती की आज़माइश

एक बार की बात है दो दोस्त रेगिस्तान से होकर गुजर रहे थे। सफ़र के दौरान दोनों के बीच में किसी बात को लेकर कहा सुनी हो गयी और उनमें से एक दोस्त ने दूसरे के गाल पर थप्पड़ मार दिया।

जिसने थप्पड़ खाया था उसे बहुत आघात पहुँचा लेकिन वो चुप रहा और उसने बिना कुछ बोले रेत पर लिखा – आज मेरे सबसे अच्छे मित्र ने मुझे थप्पड़ मारा।

उसके बाद उन दोनों ने दुबारा चलना शुरू किया। चलते-चलते उन्हें एक नदी मिली दोनों दोस्त उस नदी में स्नान के लिए उतरे । जिस दोस्त ने थप्पड़ खाया था उसका पैर फिसला और वो पानी में डूबने लगा, उसे तैरना नहीं आता था। दूसरे मित्र ने जब उसकी चीख सुनी तो वो उसे बचाने की कोशीश करने लगा और उसे निकल कर बाहर ले आया। अब डूबने वाले दोस्त ने पत्थर के ऊपर लिखा –आज मेरे सबसे अच्छे मित्र ने मेरी जान बचायी ।

वो दोस्त जिसने थप्पड़ मारा और जान बचायी उसने दूसरे से पुछा – जब मैंने तुम्हे थप्पड़ मारा तब तुमने रेत पर लिखा और जब मैंने तुम्हारी जान बचायी तब तुमने पत्थर पर लिखा , ऐसा क्यूँ ?

दूसरे दोस्त ने जवाब हदया – रेत पर इसलिए लिखा ताकि वो जल्दी मिट जाये और पत्थर पर इसलिए लिखा ताकि वो कभी ना मिटे ।

मित्रो, जब आपको कोई दुःख पहुँचाता है तब उसका प्रभाव आपके दिलो दिमाग पर रेत पर लिखे शब्दों की तरह होना चाहिए जिसे क्षमा की हवाए आसानी से मिटा सकें । लेकिन जब कोई आपके हित में कुछ करता है तब उसे पत्थर पर लिखे शब्दों की तरह याद रखें ताकि वो हमेशा अमिट रहे। इसलिए किसी भी व्यक्ति की अच्छाई पर ध्यान दें ना की उसकी बुराई पर ।

Other stories you may be interested in reading are :- Best Short Story in hindi and inspirational story in hindi.

Leave a Reply